राम जन्मभूमि के लिए विख्यात अयोध्या सिर्फ एक धार्मिक नगरी नहीं, अपितु ऐतिहासिक और सांस्कृतिक दृष्टि से भी महत्वपूर्ण है। यहाँ के मंदिर, घाट, उद्यान और प्राचीन इमारतें इसकी गौरवशाली अतीत की कहानी बयां करते हैं। अगर आप अयोध्या घूमने का प्लान बना रहे हैं, तो इन 5 मनमोहक स्थानों को अपनी सूची में अवश्य शामिल करें:

Choti Chawni:  यह सफेद संगमरमर से निर्मित एक भव्य संरचना है, जिसे वाल्मीकि भवन या मणिरमदास चावनी के नाम से भी जाना जाता है। यह स्थान ताजी हवा और शुद्ध सुंदरता का अनुभव प्रदान करता है।

सीता की रसोई:  माना जाता है कि यह रसोई कभी देवी सीता द्वारा इस्तेमाल की जाती थी। यह पवित्र स्थान अब एक मंदिर है, जिसमें कुछ प्रदर्शनी पात्र रखे गए हैं। सीता को अन्नपूर्णा देवी के रूप में पूजा जाता है, और मंदिर इस परंपरा को निःशुल्क भोजन प्रदान करके जारी रखता है।

तुलसी स्मारक भवन:  यह 16वीं शताब्दी के संत-कवि गोस्वामी तुलसीदास की स्मृति में बनाया गया था। स्मारक में एक विशाल पुस्तकालय, एक शोध केंद्र, और राम कथा संग्रहालय है। यहां प्रतिदिन रामकथा का पाठ और रामायण कला और शिल्प का प्रदर्शन होता है।

राजा मंदिर: यह मंदिर घाघर नदी (सरयू) के किनारे स्थित है। मंदिर में विभिन्न हिंदू देवी-देवताओं की सुंदर मूर्तियां हैं, जो रेशमी कपड़ों और कीमती आभूषणों से सजी हुई हैं। मंदिर की इमारत हिंदू वास्तुकला के उत्कृष्ट उदाहरणों में से एक है।

राम कथा पार्क:  यह पार्क तीर्थयात्रियों और पर्यटकों को शहर की हलचल से एक शांत स्थान प्रदान करता है। पार्क में एक ओपन-एयर थिएटर है जिसका उपयोग विभिन्न सांस्कृतिक, धार्मिक और आध्यात्मिक कार्यक्रमों के लिए किया जा सकता है।

ये सिर्फ कुछ ही स्थान हैं, अयोध्या में घूमने के लिए और भी बहुत कुछ है! आइए कभी अयोध्या की यात्रा करें और इसकी संस्कृति और इतिहास का अनुभव करें।