15 जनवरी

मंदिर निर्माण के लिए 50 से अधिक राज्यों के कलाकारों द्वारा 'मंगल ध्वनि' का भव्य वादन. मंदिर परिसर में 10:30 बजे तक सभी मेहमानों के लिए एंट्री शुरू.

16 जनवरी

– रामलला की पुरानी प्रतिमा (रामलला विराजमान, जिनकी पूजा हो रही है) को नए मंदिर में ले जाया जाएगा – रामलला की नई प्रतिमा का अनावरण

17 जनवरी

– मंदिर के गर्भगृह में रामलला की नई प्रतिमा की स्थापना – मंदिर के चारों ओर के ढांचे का निर्माण शुरू

18 जनवरी

मंदिर के बाहरी हिस्से का निर्माण शुरू

19 जनवरी

मंदिर के गर्भगृह में रामलला की प्रतिमा के लिए विशेष पूजा-अर्चना

20 जनवरी

मंदिर के गर्भगृह में रामलला की प्रतिमा की प्राण प्रतिष्ठा

21 जनवरी

मंदिर के चारों ओर के ढांचे का निर्माण पूरा

22 जनवरी

– मंदिर के बाहरी हिस्से का निर्माण पूरा – मंदिर का उद्घाटन और जनता के लिए दर्शन शुरू

प्राण प्रतिष्ठा समारोह:

22 जनवरी: सुबह 10 बजे से मंगलध्वनि बजाई जाएगी। – दोपहर 12:20 बजे से प्राण प्रतिष्ठा का शुभ मुहूर्त।

प्राण प्रतिष्ठा समारोह में शामिल होने वाले प्रमुख लोग:

– प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी – मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ – राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद – उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू – केंद्रीय मंत्री अमित शाह, राजनाथ सिंह, नितिन गडकरी, डॉ. हर्षवर्धन, रविशंकर प्रसाद आदि