Taisor Vs Fronx: आपकी लिए कौन सी है बेस्ट?

यार, तो टोयोटा ने भी फ्रॉक्स जैसी गाड़ी ला दी है! टोयोटा टायसोर का नाम है. दोनों गाड़ियों में करीब-करीब वही फीचर्स और इंजन मिलते हैं. तो फिर कौन सी खरीदें? ये कन्फ्यूजन आपके लिए भी है क्या?

हम Google News में भी आते हैं

चिल, चलो थोड़ा देखते हैं दोनों में क्या फर्क है…

डिजाइन दिखने में फर्क : Taisor Vs Fronx

Taisor Vs Fronx

दोनों गाड़ियां एक ही डिब्बे से निकली लगती हैं, पर फिर भी थोड़ा बहुत फर्क है. टायसोर में जाली थोड़ी चौड़ी और छोटी है, एलईडी डीआरएल ज्यादा स्टाइलिश हैं और बम्पर भी अलग डिजाइन का है. हेडलाइट तो दोनों में तीन हैं पर फ्रॉक्स में तीन-पीस वाली डीआरएल है जो टेललाइट्स से मैच करती है. टायसोर के 16 इंच के अलॉय व्हील्स भी अलग डिजाइन के हैं और टेललाइट्स की रोशनी का पैटर्न भी फ्रॉक्स से अलग है.

सीएनजी का झंझट

दोनों गाड़ियों में सीएनजी ऑप्शन मिलता है. 1.2 लीटर का इंजन 77.5 पीएस की पावर और 98.5 एनएम का टॉर्क देता है. लेकिन टायसोर में ये ऑप्शन सिर्फ बेस मॉडल E वेरिएंट में ही मिलता है. वहीं फ्रॉक्स में ये दो मॉडल सिग्मा और डेल्टा में भी मिल जाता है. मतलब फ्रॉक्स में सीएनजी के साथ थोड़े ज्यादा फीचर्स मिल जाते हैं.

टर्बोचार्ज्ड पेट्रोल का मजा

सीएनजी की तरह, टर्बो-पेट्रोल इंजन भी दोनों गाड़ियों में मिलता है. 1 लीटर का ये इंजन 100 पीएस की पावर और 148 एनएम का टॉर्क देता है. इसे 5-स्पीड मैनुअल या 6-स्पीड ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन के साथ लिया जा सकता है. लेकिन टोयोटा वाली गाड़ी में ये इंजन सिर्फ टॉप मॉडल G और V वेरिएंट में ही मिलता है. वहीं फ्रॉक्स में ये तीन मॉडल डेल्टा+, जेटा और अल्फा में भी मिल जाता है. मतलब फ्रॉक्स टर्बो इंजन वाली गाड़ी लेने में करीब एक लाख रुपये सस्ती पड़ती है.

तो ये रहे दोनों गाड़ियों के मुख्य अंतर. दोनों की कीमत लगभग एक जैसी है और दोनों गाड़ियां आराम के मामले में भी लगभग एक जैसा अनुभव देती हैं. लेकिन इन सब बातों को ध्यान में रखते हुए आप कौन सी गाड़ी चुनेंगे? नीचे कमेंट्स में जरूर बताना!

ये भी पढ़िए: Toyota Taisor Vs Sonet: आप कौन सी कार खरीदें?

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now
Scroll to Top