विप्रो के शेयर 52-हफ्ते के उच्च स्तर पर पहुंचे, तिमाही नतीजे बेहतर रहने से निफ्टी आईटी में 2.5% की तेजी

नमस्कार दोस्तों, आज हम बात कर रहे हैं भारत की दिग्गज आईटी कंपनी विप्रो के शेयरों के बारे में, जो हाल ही में सुर्खियों में बने हुए हैं.

कल यानी 14 जनवरी को विप्रो के शेयरों में 13% की उछाल देखी गई, जिससे वे 52 हफ्तों के सबसे ऊंचे स्तर 526.45 रुपये पर पहुंच गए. यह तेजी कंपनी के दिसंबर तिमाही के नतीजों के कारण आई, हालांकि कंपनी के शुद्ध लाभ में गिरावट दर्ज की गई.

विप्रो के तिमाही नतीजे अनुमानों से तो बेहतर रहे, लेकिन कंपनी का शुद्ध लाभ लगातार चौथी तिमाही में साल-दर-साल आधार पर कम हुआ है. कंपनी के शुद्ध लाभ में 12% की कमी आई है और यह 2,694 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है.

हम Google News में भी आते हैं

हालांकि, इस गिरावट के बावजूद बाजार विशेषज्ञों का मानना है कि विप्रो का भविष्य उज्ज्वल है. कंपनी के आईटी सेवाओं के कारोबार के लिए तिमाही गाइडेंस भी सकारात्मक है. विप्रो को उम्मीद है कि चालू वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में उसका आईटी सेवाओं का राजस्व 2,615 मिलियन डॉलर से 2,669 मिलियन डॉलर के बीच रहेगा.

आइए विप्रो के नतीजों पर एक नज़र डालें:

  • शेयरों में 13% की उछाल, 52 हफ्तों का उच्चतम स्तर छूआ
  • शुद्ध लाभ में 12% की कमी, 2,694 करोड़ रुपये पर पहुंचा
  • राजस्व में 4.4% की साल-दर-साल कमी, 22,205.1 करोड़ रुपये पर पहुंचा
  • आईटी सेवाओं के कारोबार के लिए तिमाही गाइडेंस सकारात्मक
  • कुल बुकिंग में 0.2% की सीक्वेंसल बढ़ोतरी, लेकिन साल-दर-साल आधार पर 13.5% की कमी

विप्रो के नतीजों से यह स्पष्ट है कि कंपनी चुनौतियों का सामना कर रही है, लेकिन भविष्य के लिए उसकी रणनीति मजबूत दिखाई देती है. हालांकि, बाजार विशेषज्ञों का मानना है कि कंपनी के शेयरों में अभी और तेजी आ सकती है.

तो, क्या आप विप्रो के शेयरों में निवेश करेंगे? हमें कमेंट्स में बताएं!

Oppo Reno 11 versus Poco X6 Pro: सबसे बेहतरीन बजट फ़ोन

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top